praatibh

http://Democracy

Posts by praatibh

gurgawn_01

उम्मीदों की ओर बढ़ते कदम

Category: Uncategorized
by

ये कहानी गुडगाँव की लम्बी लम्बी इमारतों के बीच बसी एक बस्ती से है | मार्च महीने की सात तारीख को सरिता के घर में बड़ी हलचल थीए सब लोग ऊपर से लेकर नीचे तक भागादौड़ी में लगे थे| नीचे खाना बन रहा था और ऊपर छत पर टेंट लगा हुआ था| ऐसा लग रहा […]

Read more