Home / Events / गणंतत्र दिवस कार्यक्रम

Events

गणंतत्र दिवस कार्यक्रम

26 Jan 2017  --  26 Jan 2017

Jhansi

Local



प्रस्तावना -  दिनांक 26 जनवरी 2017 को  गणतन्त्र दिवस की 68 वीं सालगिरह को प्रिया झाँसी में  4 अलग-अलग वार्डों - 7 स्कूलपुरा, 44 दतिया गेट बाहर, 26 कोछाभांवर , 41 बड़ा गाँव गेट बाहर में बस्ती विकास समिति, विद्यालय एवं नगर निगम के ज़ोनल ऑफिस में मनाया |

उद्देश्य – इस कार्यक्रम को मनाने का उद्देश –

  • बस्ती विकास समिति एवं सम्बंधित वार्डों के हितग्राहियों के साथ जुड़ाव |
  • संविधान के उद्देश्य को दोहराते हुए लोकतंत्र पर शपथ के माध्यम से युवाओं / समुदायों की समझ को बढ़ाना |

प्रक्रिया – इस कार्यक्रम को करने से पू र्व टीम के द्वारा बस्तियों में मीटिंग की गई और तय हुआ  कि बार अपने वार्डों में स्थित हितग्राहियों के साथ मिलकर मनाये इस पर सभी ने अपनी सहमति जताई तब तब प्रिया के कार्यकर्त्ता द्वारा उन हितग्राहियों से मिलकर बस्ती विकास समिति के विषय में पुनः जानकारी दी और उनके साथ मिलकर गणतन्त्र दिवस मनाने का सुझाव रखा और उनसे अनुमति प्राप्त की |

विवरण – झाँसी की वह बस्तियां जहाँ के लोग खुद को निम्न स्तर का मानते हैं और अपने क्षेत्र के ही विभागों के साथ बात करने मेन कतराते थे मगर इस वर्ष गणतन्त्र दिवस की 68 वीं सालगिरह इन चार जगहों पर होना निश्चित हुआ |

वार्ड नं. 41 –

वार्ड नं. 41 बाहर बड़ा गाँव बाहर स्थित िढमरयाना बस्ती विकास समिति के सुझाव पर वहां के प्रसिद्द स्कूल लार्ड महाकालेश्वर इंटर कॉलेज में बहुत ही धूमधाम के साथ मनाया गया | इस स्कूल के डायरेक्टर श्री के. एन. गुप्ता ने ध्वजारोहण के पश्चात  उन्होंने अपनी बात को लोकतंत्र से जोड़ते  हुए बस्ती के लोगों और छात्र / छात्राओं से अपने संबोधन में बताया कि देश में एक स्वतंत्र गणराज्य  और अपनी कानून व्यवस्था स्थापित करने के लिए संविधान को 26 जनवरी 1950 को एक लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली को लागू किया गया | उन्होंने यह भी कहा कि अब समय है कि युवा आगे आयें और अपने विचारों का आदान-प्रदान करें तभी एक सम्पूर्ण राज्य की स्थापना की जा सकती है | इसके अलावा इस विद्यालय के युवा छात्र / छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किये जिसमें उन्होंने एक छोटी नाटिका में लोकतंत्र को शामिल किया | हमने इसी विद्द्यालय के छात्रों से लोकतंत्र पर बात करने पर जोर दिया तब इंटर के एक छात्र शशांक ने अन्य छात्रों को लोकतंत्र के विषय में बताया कि, “ हम अपनी पढाई कर पा रहे है , हमे खेलने की आज़ादी घूमने की आज़ादी, अपने विचारों को रखने की आज़ादी है यही लोकतंत्र है |” कार्यक्रम के अंत में एक शपथ के माध्यम से संविधान जिन उद्देश्यों के साथ बनाया गया उसे एक छात्र वीरेंदर साहू  जो उसी बस्ती का निवासी भी है जहाँ हमारी बस्ती विकास समिति है  के द्वारा दोहराया गया |  

      कार्यक्रम के अंत में लार्ड महकालेश्वर के प्राचार्य श्री विशाल गुप्ता जी ने बस्ती विकास समिति के द्वारा निर्णित इस नए प्रयास के लिए के लिए सराहा भी और साथ ही भविष्य में प्रिया के साथ इसी प्रकार के कार्यक्रम करवाने की इच्छा भी ज़ाहिर की ताकि उनके स्कूल के बच्चों एवं बस्ती में रह रहे उनके माता-पिता की भी जानकारी बड़े और वो जागरूक हों |

प्रतिभागी – बस्ती विकास समिति के सदस्यों, समुदाय के अन्य सदस्यों , छात्र / छात्राओं एवं अध्यापकों सहित इस कार्यक्रम में लगभग 250 लोग उपस्थित रहे | 

 

वार्ड नं. 7 ( स्कूलपूरा ) –

 स्कूलपूरा में बस्ती विकास समिति सदस्य एवं पूर्व निर्णय के अनुसार प्रातः 08:30 बजे नगर निगम के जोनल ऑफिस पहुंचे वहां वार्ड 07 के सभी सफ़ाई कर्मचारी, पार्षद शेखू जी  उपस्थित रहे | पार्षद जी के द्वारा ध्वजारोहण के पश्चात सभी का परिचय हुआ वहां बस्ती विकास समिति के लोगों ने अपने नाम के साथ अपनी पहचान भी बताई | पार्षद ने सभी को संबोधित किया , चूँकि वहां सभी सफ़ाई कर्मचारी भी उपस्थित थे तो उन्होंने अपने संबोधन में वार्ड की साफ़ – सफाई पर भी चर्चा की और उसके लिए बस्ती विकास समिति  एवं प्रिया से भी समय- समय पर बात-चीत एवं सलाह लेने की बात कही | कार्यक्रम के अंत में संविधान उद्देशिका को दोहराते  हुए सभी को शपथ  ग्रहण करवाई |

प्रतिभागी – इस कार्यक्रम के दौरान यहाँ लगभग 25  से 30 लोग उपस्थित रहे | जिसमें 25  सदस्य बस्ती के थे |

वार्ड नं. 26 ( कोछाभांवर ) –

कोछाभांवर में प्राथमिक विद्यालय में भुमियापुरा हरिजन बस्ती  के बस्ती विकास समिति के सदस्य जिसमें कई युवावर्ग के लोग भी उपस्थित थे यहाँ भी पार्षद द्वारा ध्वजारोहण किया गया और संविधान की उद्देशिका को पढ़ा गया पार्षद जी ने अपने संबोधन में लोकतंत्र के महत्व को बताते हुए युवाओं की भागीदारी पर बल दिया और उनको सही दिशा में आगे बढ़ने को प्रेरित किया इसी के साथ उन्होंने महिलाओं के अधिकारों एवं उनके सम्मान को लेकर सोच को बदलते हुए उनके आगे बढ़ने एवं उनकी गरिमा बनाये रखने की बात कही |   

प्रतिभागी -  कार्यक्रम में 40 – 50 लोग उपस्थित थे जिसमे स्कूल के प्राचार्य, अध्यापक, एवं बस्ती विकास समिति के लोग और बस्ती के अन्य लोग भी मौजूद रहे |

वार्ड नं. 44 ( बाहर दतिया गेट ) –

इस वार्ड के प्राथमिक विद्यालय के प्रांगण में जो कि बस्ती में ही है वहां सभी SIC सदस्य उपस्थित हुए | ये सभी बहुत खुश थे | इस दौरान विद्दयालय के प्रधानाचार्य मो. सत्तार वहां के अध्यापक/ अध्यापिकायें एवं बस्ती विकास समिति के अध्यक्ष मो. दिलावर खान , बस्ती विकास समिति के सदस्य, बस्ती के अन्य समुदाय के लोग, प्रिया के क्षेत्रीय कार्यकर्ता एवं बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी के सामजिक विज्ञान विभाग से आशा एवं कमलेश जो कि  प्रिया झाँसी ऑफिस  में इंटर्न हैं उपस्थित रहे |  

निष्कर्ष -   इस प्रकार बस्ती विकास समिति ने सम्बंधित वार्डों के हितग्राहियों के साथ मिलकर इस कार्यक्रम के माध्यम से अपनी एक पहचान दर्ज कराई |

 

      
      

 Filter By Category  

Testimonials

  • I am an example of the Kishori Panchayat Programme which gave young girls the desire to do something, a reason to embrace life

    Kavita
    Kishori Panchayat Member
    Bihar
  • PRIA works for educating voters and making them conscious of discharging their duties as responsible citizens

    Dr Sushil Trivedi, IAS (Retd.)
    Former State Election Commissioner
    Chhattisgarh
  • PRIA has been able to provide voice to the Dalits and has generated awareness among them to demand their rights

    Vidyanand Vikal, Chairperson
    Commission for Scheduled Castes
    Government of Bihar
  • We learnt multi-stakeholder dialogue as a tool for advocacy from PRIA…it is a wonderful tool for organising people

    Ashok Kadam
    Parivartan
    Maharashtra
  • The partnership between University of Victoria, a Northern university, and PRIA, a Southern institution, enables us to make some real contributions to building capacities in the global South

    Prof. Budd Hall, Co-Chair
    UNESCO Chair for Community Based Research and Social Responsibility in Higher Education
    University of Victoria, Canada
  • PRIA has helped to build a large movement for citizens to use Panchayati Raj Institutions at the local level, to use their leadership, their voice, to bring about democracy from below

    Dr John Gaventa, Director of Research
    Institute of Development Studies
    Sussex, UK
  • I have thoroughly enjoyed the privilege of being able to enroll myself in the course…this program has opened my eyes to possibilities for my life which were previously unconsidered

    Tripti Vinita Pal, Alumnus
    Appreciation course
  • Participatory Approaches for Social Inclusion course was undoubtedly beneficial for my research work, providing a deep understanding of theoretical aspects and the applied side of participation

    Pallavi Mishra
    PhD Research Scholar
    Jawaharlal Nehru University
  • I am a third party facilitator for three large institutions but I did not know half the things we have discussed in the Third Party Facilitator Training I attended organized by PRIA

    Rajlakshmi
    Joint Secretary of Lakshmi, an NGO
    Lucknow